Wednesday, 7 January 2015

पिके का विरोध - in Cut to cut style


फिल्म "पीके" पर इतनी प्रतिक्रियाएँ, टिप्पणियाँ आ चुकी है मार्केट में की इस पर कुछ भी लिखना क्लीशे होगा। फिर भी आज बैठे बैठे सोचा की क्यों न मैं भी अपनी आपत्ती दर्ज करवा ही दूँ। क्योंकि आजकल अगर किसी न किसी चीज का विरोध न करो तो लोग बेवकूफ समझते है। इसलिए मैं अपना ऑनलाइन प्रोटेस्ट करता हूँ "पीके" के खिलाफ।



इस फिल्म में एक गाना है "बिन पूछे मेरा नाम और पता, रस्मो को रख के परे , चार कदम बस चार कदम चल दो न साथ मेरे" . 

एक फुल टाइम फुल्ली कमिटेड पति होने के नाते इस गाने से मेरी भावनाएं आहात हुयी है जनाब। नायक पहली ही मुलाकात में नायिका को पटाने के लिए गाना गाता है और कहता है की मेरा नाम पता पूछे बिना ही मेरे साथ २-४ कदम चल लो। हद्द है यार, यहाँ अगर हमें शादी करना हो या लड़की पटाना हो तो नाम पता तो ठीक है अपनी जनम कुंडली, बैंक बैलेंस, मंथली इनकम से लेकर अपनी पैथोलॉजी रिपोर्ट्स तक दिखानी पड़ती है और तुम नाम पता भी नहीं बता सकते। फिर अागे कहता है की रस्मो को परे रख दो, बोलो यार यहाँ हम सारी रस्मे, कस्मे और वादें निभाते रहे जीवन भर, और अगर कोई छोटा मोटा वादा न निभा पाये तो सजा भी भुगते। सिर्फ यहीं तक मेरी भावनाएं आहात नहीं हुयी इसके आगें तो नायक कहता है की बस चार कदम चलदो साथ मेरे। कहिये, यहाँ हम सात सात जन्मो की कसम खाके एक ही नायिका के साथ बंधे हुए है और यह हर चार कदम में नयी नायिका चाहता है वो भी बिना कोई कमिटमेंट के, वाह भाई वाह।


बात सिर्फ इतनी ही होती तो जैसे तैसे ठंडा पानी पिके (पीने वाला पिके, फिलम वाला नहीं) हम काम चला लेते परन्तु नायक यहीं रुका नहीं इसके आगे सुनिए।  कहता है बिन कुछ कहे बिन कुछ सुने मेरे साथ चलदो, अब आप ही बताओ आप में से किसकी गर्लफ्रैण्ड या बीवी आपसे बिन कुछ कहे आपके साथ चलने को राजी हो जाती है ? कब हुआ था आखिरी बार ऐसा की आप कही गए हो ४ कदम ही चले हो और वो "चुप" रही हो ?

एक कमिटेड पुरुष होने के नाते हम इस गाने का विरोध करते है साहब। इतना ही नहीं, गाना खत्म होते होते नायिका अंत में कह ही देती है "चार कदम ही क्या, सारी उम्र चल दूंगी साथ तेरे" तब जाकर राहत की साँस लेता हूँ मैं की चलो ये नायिका भी उमर भर चिपकेगी इसके साथ।

वैसे चलते चलते इस गाने के अलावा एक और चीज से मेरी उम्मीदों को ठेस पहुंची है और वो यह की नंगा पुंगा एलियन दोस्त आमिर ही क्यों कटरीना क्यों नहीं ??